General Knowledge

विकास बैंक क्या है? – Development Bank in Hindi

Advertisement

दोस्तों आज के आर्टिकल में हम विकास बैंक क्या होता है उसके बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। आप हमारे आर्टिकल को ध्यान से पढ़ना ताकि विकास बैंक से जुड़ी सभी जानकारी आपको मिल सके।

हमारे देश में विकास बैंक नहीं पाई जाती। जिसके परिणाम स्वरूप बड़ी-बड़ी निर्माण योजनाओं के लिए वित्त पोषण में समस्या देखने को मिलती है। इसके कारण दीर्घकालीन वित्त उपलब्ध कराने के लक्ष्य को नजर में रखते हुए भारत सरकार ने एक ऐसे संगठन की स्थापना की है जो भवन निर्माण और आवास परियोजनाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा ऋण प्रदान करेगा।

इस घोषणा के बाद भारत के वित्तीय तंत्र पर दूरगामी प्रभाव पड़ने की संभावनाएं बढ़ जाती है। हालांकि यह एक योग्य पहल है परंतु इसकी रूपरेखा को देखकर कुछ शंकाए भी पैदा होती है।

Advertisement

जरुर पढ़ें : सर्च इंजन क्या है और वह कैसे कार्य करता है?

विकास बैंक क्या होता है?

विकास बैंक का कार्य लंबे समय तक चलने वाले और कम प्रति लाभ देने वाले पूंजी निवेश के लिए दीर्घकालीन ऋण प्रदान करना होता है। जैसे कि शहरी ढांचा निर्माण खनन भारी उद्योग और सिंचाई के क्षेत्र में दिया जाता है।

विकास बैंक को सर्वाधिक ऋण दाता संस्थान के नाम से भी जाना जाता है।

जरुर पढ़ें : भूस्खलन क्या है और कैसे होता है?

Advertisement

विकास बैंक की विशेषताएँ क्या होती है?

विकास बैंक समाज को फायदा पहुंचाने वाले दीर्घकालीन निवेशो को प्रोत्साहित करके अधिकतर कम और स्थिर दरों पर व्याज लेते हैं।

इस प्रकार के ऋण देने के लिए विकास बैंकों को कई सारे वित्त की आवश्यकता होती है। जो साधारण रूप से पूंजी बाजार में बहुत बाद की तिथि वाली सिक्योरिटी निर्गत करके प्राप्त किया जाता है। इन सिक्योरिटी को पेंशन, जीवन बीमा कोषो और डाकघर जमा जैसे दीर्घकालीन बचत संस्थान खरीदते हैं।

विकास बैंकों को सरकार तथा अंतरराष्ट्रीय संस्थानों को भी समर्थन प्राप्त होता है क्योंकि उनके द्वारा किए गए निवेश का सामाजिक लाभ बहुत ज्यादा होता है। इस प्रकार के निर्देश के साथ अनिश्चिताएं भी शामिल होती है।

सरकार इनकी सहायता से करों में छूट देकर और निजी क्षेत्रों के बैंकों और वित्तीय संस्थानों को इनके द्वारा निर्गत सिक्योरिटी में निवेश करने हेतु प्रशासनिक आदेश देकर करती है।

जरुर पढ़ें : Payment Bank क्या है और Payment Bank से जुड़ी जानकारी

Advertisement

प्रस्तावित विकास बैंक की रूपरेखा क्या होती है?

हमारे देश में विकास बैंक की स्थापना से पहले यह सोच लेना जरूरी है कि वित्त कहां से मिलेगा।

अगर विदेश से निजी पूंजी आमंत्रित की जाती है तो उसका मतलब होता है कि पूंजी देने वाली कंपनियो का इस बैंक पर आंशिक स्वामित्व बन जाएगा। इस बात को ध्यान में रखके ही कोई जरुरी निर्णय लेना चाहिए।

जरुर पढ़ें : वेब डेवलपर कैसे बने?

विकास बैंक का कार्य क्या होता है?

  • प्रत्यक्ष ऋणों के माध्यम से वित्तीय सहायता देना।
  • औद्योगिक इकाइयों के अंशों का अभिगोपन।
  • वृहद औद्योगिक इकाइयों के ऋणों की गारण्टी देना।
  • मध्यम आकार की इकाइयों को विशेष सहायता करवाना।
  • वाणिज्यिक बैंकों को पुनर्वित्त सुविधा देना।
  • विनिमय बिलों के पुनर्कटौती की सुविधा देना।

जरुर पढ़ें : सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्योग किन्हें कहा जाता है?

Last Final Word

यह थी विकास बैंक के बारे में जानकारी। हम उम्मीद करते है की हमारी जानकारी आपको पसंद आयी होगी। अगर आप को इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल हो रहा हो तो हमें कमेंट के माध्यम से अवश्य बताइए।

Advertisement

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आसानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते है ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट करके हमे बता सकते है, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement