Career Guide

समीक्षा अधिकारी कैसे बने?

Advertisement

दोस्तों आज के इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हम आपसे बात करने वाले है समीक्षा अधिकारी यानि Review Officer की सरकारी जॉब को हासिल करने के बारें में बात करने वालें हैं। समीक्षा अधिकारी का पद सचिवालय, राजस्व विभाग, निर्वाचन विभाग, हाई कोर्ट जैसे आदि सभी महत्वपूर्ण विभागों में होता हैं। प्रत्येक विभाग एक या अदिक अनुभागों में बटा होता है। कार्यो के शीग्रता पूर्व एवं सरलता पूर्वक निष्पादन केलिए विभागों को अनुभागो में बाटा जाता हैं। समीक्षा अधिकारी का पद इन अनुभागो सेक्शन में होता हैं। इसका कार्य ऑफिशियल लेटर्स, ऑफिशियल वर्क, क्लेरिकल वर्क का रिव्यु करना होता हैं।

ये पद एक जिमेदारी भरा होता है। विभाग के कार्य की समीक्षा करने के साथ-साथ समीक्षा अधिकारी का कार्य समीक्षा के लिए भेजे गए सभी पत्रों को प्राप्त करना एवं उने एक डायरी में मेंटेन करना होता हैं। रिव्यू के लिए भेजे गए पत्रों पर अपनी टिपण्णी एवं नोट लिखना प्रिंटिंग के लिए प्रेस को भेजे गए मेटर्स की प्रूफ चेकिंग करना, आ बंधीत कार्यो यह महत्वपूर्व मामले में अत्यधिक विलंभ किये जाने पर अनुभाग अधिकारी को इसकी जानकारी देना, दस्तावेजो की गोपनीयता बनाए रखना, आ बंधित कार्य के लिए अभिलेखों का रख रखाव और यदि आवशयक हो तो नई फाइल बनाना आदि होता है। इन पदों के लिए राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा भर्ती की जाती हैं। इसके लिए विभागों से प्राप्त रिक्त पदों के आधार पर राज्य लोक सेवा, आयोग द्वारा भर्ती की समय समय पर नोटिफिकेशन जारी करती है, एवं योग्य उम्मीदवारो चयन के लिए प्रत्योगता परीक्षा का आयोजन भी करती हैं।

समीक्षा अधिकारी क्या होता है? (What is a Review Officer?)

समीक्षा अधिकारी के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को यूपीपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त करनी होगी क्योंकि, यह पद आपको समीक्षा अधिकारी की परीक्षा के माध्यम से ही मिल सकता है। समीक्षा अधिकारी के पद के लिए उत्तर प्रदेश के सरकारी संस्थानों और सचिवालयों की नियुक्ति की जाती है। किसी के लिए भी करियर बनाने के लिए यह बहुत अच्छा काम साबित होगा। यह एक महत्वपूर्ण पद है, लेकिन इस पद पर सफलता पाने के लिए उम्मीदवार को बहुत मेहनत करने की जरूरत है। आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी होना भी जरूरी है। तो यह था समीक्षा अधिकारी हैं।

Advertisement

समीक्षा अधिकारी कैसे बने? (How to become a Review Officer?)

जो भी उम्मीदवार समीक्षा अधिकारी बनने के लिए आवेदन करते हैं, तो उन उम्मीदवारों को सबसे पहले उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) द्वारा आयोजित उत्तर प्रदेश समीक्षा अधिकारी (आरओ) / सहायक समीक्षा अधिकारी (एआरओ) परीक्षा में शामिल होना होगा। इस परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को आम तौर पर सचिवालय भवन, लखनऊ और उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग भवन, इलाहाबाद आदि में चुना जाता है।

समीक्षा अधिकारी की शैक्षणिक योग्यता (Officer Qualification of Review Exam)

कोई भी ग्रेजुएट डिग्री प्राप्त उम्मीदवार समीक्षा अधिकारी के लिए आवेदन हेतु क्या होनी चाहिए शैक्षणिक योग्यता। समीक्षा अधिकारी पद के लिए अभार्थी के पास कोई भी ग्रेजुएट डिग्री होनी जरुरी हैं, इसके साथ साथ ही विभाग के वर्गनेचर के आधार पर कंप्यूटर एवं टाइपिंग का ज्ञान होना आवश्यक होता हैं।

समीक्षा अधिकारी की आयु सीमा (Age Limit of Review Officer)

समीक्षा अधिकारी के लिए आवेदन हेतु क्या होनी चाहिए आयु सीमा, उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से 42 वर्ष के बिच में होनी चाहिए। आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा में नियमानुसार छुट देने का प्राविधान होता हैं।

समीक्षा अधिकारी परीक्षा का सिलेबस (Review Officer Exam Syllabus)

समीक्षा अधिकारी के पद के लिए उम्मीदवार को प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा देनी होती है, इन परीक्षाओं के आधार पर उम्मीदवार का चयन किया जाता है, प्रारंभिक परीक्षा में दो विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं, जो इस प्रकार हैं।

Advertisement
  1. सामान्य अध्ययन
  2. हिंदी

सामान्य अध्ययन से संबंधित 140 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं, और दूसरा प्रश्न पत्र हिंदी से संबंधित है, जिसमें 60 प्रश्न पूछे जाते हैं, यह प्रश्न पत्र 200 अंकों का होता है।

समीक्षा अधिकारी परीक्षा पैटर्न (Review Officer Exam Pattern)

विषयप्रश्न  अंक
सामान्य अध्ययन140140
हिंदी6060

प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत सामान्य अध्ययन पाठ्यक्रम 

1. सामान्य बुद्धि परीक्षण
उत्तर प्रदेश की शिक्षा, संस्कृति, कृषि, उद्योग, व्यापार, रहन-सहन और सामाजिक परंपरा से संबंधित प्रश्न।

2. सामान्य विज्ञान
सामान्य विज्ञान के अधीन विज्ञान की समझ से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसमें वर्तमान अवलोकन (current overview) और अनुभव के प्रसंग शामिल होते हैं।

3.भारत का इतिहास
भारतीय इतिहास के आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक पहलुओं से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

4.वर्तमान मुद्दे
राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय समाचार करंट अफेयर्स, महत्वपूर्ण तिथियां, वर्तमान विज्ञान, प्रौद्योगिकी, खेल और संस्कृति, भारतीय वर्तमान घटनाओं, सामान्य विज्ञान, सामान्य ज्ञान से प्रश्न पूछे जाते हैं।

Advertisement

5.भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और चरित्र, राष्ट्रवाद के विकास और स्वतंत्रता की प्राप्ति के बारे में संक्षिप्त दृष्टिकोण से प्रश्न पूछे जाते हैं।

6.भारतीय अर्थव्यवस्था और राजनीति
भारतीय नीति और अर्थव्यवस्था में, भारतीय संविधान से संबंधित उम्मीदवारों के ज्ञान के बारे में प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसमें भारत का संविधान, पंचायती राज की व्यापक विशेषताएं और सामुदायिक विकास, भारतीय अर्थव्यवस्था और योजना शामिल हैं।

7. विश्व भूगोल और जनसंख्या
इस विषय के अंतर्गत सामान्य समझ की अपेक्षा की जाती है, भारत के भूगोल, भूगोल और विश्व की जनसंख्या के भौतिक/पारिस्थितिक, आर्थिक और सामाजिक-जनसांख्यिकीय पहलुओं से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

8.समकालीन
करेंट अफेयर्स के लिए आप इस पोर्टल पर डेली न्यूज पेपर और करेंट अफेयर्स के सेक्शन से डेली करंट न्यूज भी देख सकते हैं, इसके अलावा आप किसी अच्छी मंथली मैगजीन की मदद ले सकते हैं।

प्रारंभिक परीक्षा के तहत हिंदी पाठ्यक्रम

हिंदी पाठ्यक्रम के अंतर्गत सामान्य शब्दावली और व्याकरण से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं, इसमें कुल 60 प्रश्न पूछे जाते हैं, प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित किया जाता है, परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न इन बिंदुओं से पूछे जाते हैं।

Advertisement
  • 1 – विलोम।
  • 2 – समानार्थी।
  • 3 – तत्सम-तद्भव शब्द।
  • 4 – वाक्य और वर्तनी सुधार।
  • 5 – कई शब्दों का एक शब्द।
  • 6 – विशेष और विशेषण।

समीक्षा अधिकारी मुख्य परीक्षा पाठ्यक्रम (Main Exam Syllabus)

सामान्य अध्ययन पाठ्यक्रम

प्रथम प्रश्नपत्र में सामान्य अध्ययन के कुल 120 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता हैं, जिसके लिए उम्मीदवार को अधिक से अधिक 120 अंक निर्धारित होता हैं।

सामान्य हिंदी एवं आलेखन 

दूसरे पेपर के लिए सामान्य हिंदी और ड्राफ्टिंग (वर्णनात्मक) अधिकतम 100 अंक निर्धारित हैं, जिसका उत्तर अधिकतम दो घंटे तीस मिनट में लिखा जाना है।

  1. दिए गए गद्यांश के रेखांकित अंशों का शीर्षक, सारांश और स्पष्टीकरण।
  2. किसी दिए गए सरकारी पत्र का सारणीबद्ध रूप में सार लेखन।
  3. पत्राचार से संबंधित सरकारी/अर्ध-सरकारी पत्र, कार्यालय लेख/ज्ञापन/परिपत्र, विज्ञप्ति/टिप्पणियां और रिपोर्ट/अनुस्मारक आदि।
  4. शब्दावली (प्रशासनिक और वाणिज्यिक) के तहत अंग्रेजी से हिंदी में पांच शब्द, हिंदी से अंग्रेजी के पांच शब्द, मुहावरे और कहावत, कंप्यूटर ज्ञान आदि से प्रश्न पूछे जाते हैं।

सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण

सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण में कुल 30 प्रश्न पुछे जाते है। जिसके तहत अधिकतम 60 अंक निर्धारित किये गए हैं, इसके जवाब ज्यादा से ज्यादा तिस मिनिट में देने की समय सीमा होती हैं।

हिंदी नीबंध 

इसके प्रश्न पत्र में तिन प्रश्न होंगे और सभी प्रश्नों में तिन नीबंध होंगे, जिसमे से उम्मीदवार को सभी प्रश्नों से एक एक नीबंध को 600 शब्द में लिखना होगा, फिर लिखे गए सभी नीबंध के 40 अंक निर्धारित किये गये हैं। यह नीबंध को साहित्य, सामाजिक क्षेत्र, राजनितिक क्षेत्र, विज्ञान, पर्यावरण एवं प्रौद्योगिकी, आर्थिक क्षेत्र, कृषि एवं व्यापर, राष्ट्रिय एवं अन्तराष्ट्रीय घटनाक्रम, प्राकृतिक आपदाए जैसे-भू-रखलन, चक्रवात, भूकंप, बाढ़, सुखा आदि, राष्ट्रीय विकास योजना अन्य क्षेत्रो से जुड़े होते हैं।

Advertisement

समीक्षा अधिकारी मुख्य परीक्षा पेटर्न (Main Exam Pattern)

विषयप्रश्न अंकसमय
सामान्य अध्ययन1401402 घंटे
सामान्य हिंदी एवं आलेखन1001002 घंटे 30 मिनट
सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण606030 मिनट
निबंध1203 घंटे
                                कुल3004208 घंटे

समीक्षा अधिकारी चयन प्रक्रिया (Selection Process)

समीक्षा अधिकारी के पद के लिए क्या हैं चयन प्रक्रिया, समीक्षा अधिकारी बनने हेतु किसी भी उम्मीदवार को लिखित परीक्षा में समिलित होना जरुरी होता हैं। इस परीक्षा में इंटरव्यू नहीं होता। अभ्यार्थी को लिखित परीक्षा के अंतर्गत प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा देनी होती हैं। प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत दो पेपर होते हैं। प्रारंभिक परीक्षा के पेपर 200 अंक के होते हैं, जिसमे सामान्य ज्ञान से 200 वस्तुनिष्ट प्रकार के प्रश्न पुछे जाते हैं। इस पेपर को हल करने के लिए उम्मीदवार को 3 घंटे का समय दिया जाता हैं। वही मुख्य परीक्षा में 2 पेपर होते हैं। प्रथम पेपर अंग्रेजी भाषा का होता हैं, जिसके प्रश्नों की प्रकति लिखित प्रकार की होती हैं। इसके लिए 200 अंक निर्धारित होते हैं। इस पेपर को हल करने के लिए उम्मीदवारों को 3 घंटे का समय दिया जाता हैं। वंही द्वितीय पेपर हिन्दी भाषा का होता हैं, जिसके प्रश्नों की प्रकति लिखित प्रकार को होती हैं। इसके लिए अधिकतम  200 अंक निर्धारित होते हैं। इसे हल केरने के लिए उम्मीदवारों को 3 घंटे का समय दिया जाता हैं।

समीक्षा परीक्षा के लिए आवेदन पत्र (Application form for review paper)

समीक्षा परीक्षा हेतु आवेदन कैसे करें। समीक्षा परीक्षा पदों के लिए संबधित लोग सेवा आयोग द्वारा ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं। पद से संबधित आवेदन और पात्रता माप दंड की विस्तृत जानकारी आप उस राज्य के लोक सेवा आयोग के आधिकारिक वेबसाईट से प्राप्त कर सकते हैं। जहा के लिए आप आवेदन कर रहें हैं। अधिक सुचना की विस्तृत जानकारी के लिए जरुरी हैं, की आप संबधित राज्य के लोकसेवा आयोग द्वारा जारी अपडेट पर नज़र रखें, आप इनकी जानकारी रोजगार समाचार, दैनिक समाचार पत्र, वैब पोटल्स और मोबाईल एप्लीकेशन के साथ ही जागरण जोश और इसके मोबाइल ऐप से भी प्राप्त कर सकते हैं।

समीक्षा अधिकारी के कार्य क्या होते हैं? (What are the functions of Review Officer?)

  • समीक्षा अधिकारी का मुख्य कार्य अनुभाग में प्राप्त पत्रों को जर्नल में अंकित करना, अनुभाग के लिए निर्धारित रजिस्टरों को बनाए रखना और कागजात, फाइलों के संचालन को सटीक रूप से चिह्नित करना है।
  • स्वच्छ प्रतियां और विवरणिका तैयार रखता है।
  • इसके अलावा कॉपियों के मिलान में अन्य सहायकों की सहायता करनी होगी।
  • समीक्षा अधिकारी जारी होने वाले सभी मेल को पत्र-पुस्तिका में अंकित करता है और पत्रों के वितरण के बाद पत्र-पुस्तिका की जांच करता है।
  • यह अधिकारी अपने कर्तव्य को पूरा करने के लिए जारी करने से पहले पत्रों के सभी अनुलग्नकों की जांच करता है।

Last Final Word:

एक समीक्षा अधिकारी क्या है? आरओ कैसे बनें, वेतन, योग्यता क्या है? इस बारे में पूरी जानकारी दे दी गई है।

दोस्तों हम आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार से जुडी जानकारीयाँ eBooks, Study Materials और Class Notes हर रोज Post करते है जिससे आप आसानी से आपकी आने वाली Competitive Exam की तैयारी कर सकते हे।

आपको यह जानकारिय अछी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए। धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement