General Knowledge

पश्चिमी विक्षोभ क्या है?

Advertisement

पश्चिमी विक्षोभ को वेस्टर्न डिस्टरबेंस के नाम से भी जाना जाता है। आज के इस आर्टिकल में हम पश्चिमी विक्षोभ के बारे में माहिती हासिल करेगे। आप इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ना ताकी इससे संबंधित सभी प्रकार की जानकारी आपको मिल सके।

सर्दियों के मौसम में भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी भाग में आने वाले तूफान को पश्चिमी विक्षोभ कहते हैं। Western Disturbance उत्तर पश्चिमी इलाकों में सर्दियों में बारिश लाता है, जो की मानसून की बरसात से अलग होती है। Western Disturbance वायुमंडल की ऊंची तहो में भूमध्य सागर अंध महासागर और कैस्पियन सागर उनसे नमि लाकर बिना मौसम के वर्षा अथवा बर्फ के रूप में उत्तर भारत पाकिस्तान और नेपाल जैसे हिस्सों में गिरता है। आने वाला तूफान अथवा कम दबाव वाला भूमध्य सागरीय क्षेत्र और यूरोप के दूसरे हिस्से तथा अटलांटिक महासागर में से आते हैं।

पश्चिमी विक्षोभ से होने वाली वर्षा से रबी की फसल को बहुत फायदा होता है। साथ ही साथ इनका प्रभाव भारत के मौसम पर काफी हद तक पड़ता है। मानसून के इतर गर्मी या सर्दी में तेज हवाएं चलती है। इसकी वजह से गरज के साथ वर्षा होती है और कई बार हिमालय से टकराकर तूफानी हवाओं की नमी बारिश के रूप में गिरती है।

Advertisement

जरुर पढ़ें : भारतीय श्रम कानून और उसकी आलोचना

पश्चिमी विक्षोभ का निर्माण

पश्चिमी विक्षोभ यानी कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक बाह्य उष्णकटिबंधीय चक्रवात के स्वरूप में भूमध्य सागर में उत्पन्न होता है। यूक्रेन और आसपास के क्षेत्र में एक उच्च दाब का क्षेत्र उत्पन्न हो जाता है जिसके चलते ध्रुवीय क्षेत्रों से ठंडी हवा तुलनात्मक स्वरूप से स्फ्जोल गर्मी और उच्च आद्रता युक्त हवा वाले क्षेत्र की ओर आगे बढ़ती है।

इस घटना के परिणाम स्वरूप ऊपरी वायुमंडल में चक्रवात का निर्माण करने के लिए एक उपर्युक्त स्थिति बन जाती है। जिसकी वजह से पूर्व की दिशा की ओर बढ़ता हुआ एक दाब उत्पन्न होता है। जो धीरे-धीरे करके मध्य पूर्व दिशा की ओर आगे बढ़ता हुआ इराक अफगानिस्तान और पाकिस्तान से पसार होकर भारतीय महाद्वीप में प्रवेश करता है।

जरुर पढ़ें : Bing Search Engine क्या है और कैसे काम करता है?

Advertisement

पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव

पश्चिमी विक्षोभ के कारण भारतीय उपमहाद्वीप के निचले भागों में हल्की सी वर्षा और पहाड़ी विस्तार में भारी हिमपात देखने को मिलता हैं।

Western Disturbance के कारण आसमान में बादल छा जाते हैं और रात का तापमान बढ़ जाता है। असमय कालीन वर्षा होने की वजह से विशेषकर रबी फसलों को सहायता मिलती है। खास करके गेहूं की फसलों को लाभ होता है। जो भारत के खाद्य सुरक्षा में एक महत्वपूर्ण योगदान देता है।

अगर पश्चिमी विक्षोभ से ज्यादा मात्रा में वर्षा होती है तो फसलें नष्ट हो सकती है और साथ ही साथ भूस्खलन हिमस्खलन और बाढ़ जैसी आपत्ती आ सकती है। गंगा यमुना के मैदानों में अक्सर ठंडी हवाओं की वजह से घाना कुहासा छा जाता है।

जरुर पढ़ें : मानव विकास सूचकांक क्या होता है?

साइक्लोनिक सर्कुलेशन क्या होता है?

जब भी Western Disturbance जैसी घटना शुरू होती है तब हवाओ से एक चक्रवात उत्पन्न होता है। इस चक्रवात को साइक्लोनिक सर्कुलेशन कहते हैं। एयर सर्कुलेशन हवा तथा नमी का मिश्रण है। जिसके कारण आगे जाकर बारिश होती है।

Advertisement

पश्चिमी विक्षोभ का हिमालय की ओर आगे बढ़ने से क्या होता है?

भारत मौसम विज्ञान विभाग यानी कि आईएमडी के न्यूमेरिकल स्टडी ऑफ वेस्टर्न डिस्टरबेंस ऑफ वेस्टर्न हिमालयाज यूजिंग मेसोस्केल मॉडल के अंतर्गत Western Disturbance हिमालय की तरफ आगे बढ़ता है तो उसकी नमी की वजह से बारिश या बर्फ के रूप में भूमि पर गिरने लगता है।

कई बार वे उत्तरी पहाड़ी राज्यों जैसे की जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड और साथ ही साथ उत्तर पूर्वी राज्यों की ओर आगे बढ़ता है। हालांकि दूसरे समय मे वे पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार होते हुए दक्षिण की ओर प्रस्थान करता है।

जरुर पढ़ें : फसल पर उपयुक्त तापमान, मिट्टी और जलवायु

पश्चिमी विक्षोभ क्या हमेशा नुकसानदायी होता है?

पश्चिमी विक्षोभ मौसम के हिसाब से हर बार नुकसान कारक नहीं होता।

पश्चिमी विक्षोभ के कारण होने वाले नुकसान

  • पश्चिमी विक्षोभ के कारण कई बार बाढ़, फ्लैश फ्लड, भूस्खलन, धूल भरी आंधी, ओलावृष्टि और ठंडी लहरों से नुकसान होता है।
  • घर Western Disturbance की वजह से बारिश ज्यादा होती है तो इससे फसल नष्ट भी हो सकती है। साथ ही साथ हिमस्खलन और बाढ़ जैसी परेशानियो से बुनियादी ढांचे नष्ट हो  सकते है।

जरुर पढ़ें : सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम

Advertisement
Last Final Word

दोस्तों यह थी पश्चिमी विक्षोभ के बारे में  माहिती। हम उम्मीद करतेे हैं की हमारी जानकारी आपको पसंद आई होगी। यदि अभी भी आपके मन में इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल रह गया हो तो हमें कमेंट केेे माध्यम से बताइए।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आसानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते है ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट करके हमे बता सकते है, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement