General Knowledge

महात्मा गांधी की समाधि : राजघाट

Advertisement

हमारे देश को आजाद करने कई देश प्रेमी ने अपने प्राण को त्याग दिया है। भारत को आजाद करने में महात्मा गाँधीजी का सबसे बड़ा योगदान रहा है। उन्होंने भारत देशो को आज़ाद करने के लिए अपना पूरा जीवन अर्पित कर दिया था। 1947 की साल में पुरे भारत देश को आज़ादी मिल गई थी। हरोज गांधीजी संध्या के समय प्राथना करते थे उस समय बिडला भवन में शाम के समय गांधीजी और सरदार पटेल के बिच मीटिंग चल रही थी। तभी गांधीजी को याद आया की वे प्राथना करना भूल गए थे गांधीजी वहा से उठकर 5 बजे प्राथना करने गई तभी नाथूराम गोडसे ने पिस्तौल से गोली मार कर उनकी हत्या कर दी गई थी।

दिल्ली में यमुना नदी के पश्चिमी किनारे के राजघाट पर गांधीजी की 1 फरवरी 1948 के दिन समाधि बनाई गई थी। वही गांधीजी का अंतिम संस्कार किया गया था। यह समाधि में काले संगमरमर के पत्थर का उपयोग किया गया है। गांधीजी की समाधि पर उनके अंतिम शब्द, “हे राम” लिखा गया है। अब यह समाधि एक सुन्दर उधान का रूप ले चुका है। राजघाट जगह पर सुन्दर फुल और फुवारे लगे हुए है। उसके पास ही के शान्ति वन में जवाहर लाल नेहरु की समाधि है। बहार के देश से आने वाले सभी उच्च अधिकारी गांधीजी की इस समाधि की मुलाकात लेने अवश्य जाते है। बड़े से बड़े होद्दे वाले अधिकारी गांधीजी की समाधि के सामने अपना सर जुकाते है।

गांधीजी की समाधि के पास दो संग्राहलय मोजूद है। जिस में भारत की आजादी से जुडी सभी जानकारी मिल जाती है। राजघाट एक बड़े क्षेत्र में फेला हुआ है। इस क्षेत्र में दुनिया की बड़ी से बड़ी हस्तिय ने वृक्ष रोपण किया है।

Advertisement

गांधीजी की समाधि के साथ देश के दुसरे बड़े नेताओं की भी समाधि है।

उपाधिनामस्मारकविशेष
राष्ट्रपितामहात्मा गाँधीराजघाटकाले संगमरमर का चबूतरा
भारत के प्रथम प्रधान मंत्रीजवाहर लाल नेहरुशांतिवनघास से घिरी एक बड़ी चौकी
भारत के प्रधान मंत्रीलाल बहादुर शास्त्रीविजय घाटउनके नेतृत्व में, भारत-पाक युद्ध 1965 में पाकिस्तान पर भारत की जीत।
संसद सदस्यसंजय गाँधीशांति वन के पास स्थित
भारत के प्रधान मंत्रीइंदिरा गाँधीशक्ति स्थलएक बड़ी लाल-ग्रे चट्टान
भारत के उप प्रधान मंत्रीजगजीवन रामसमता स्थल
भारत के प्रधान मंत्रीचौधरी चरण सिंहकिसान घाट
भारत के प्रधान मंत्रीराजीव गाँधीवीर भूमि46 छोटे कमल से घिरा एक बड़ा कमल का फूल उसके जीवन के वर्षों का प्रतिनिधित्व करता है। इसके आसपास के तमाम राज्यों के पत्थर रखे गए हैं।
भारत के राष्ट्रपतिज्ञानी जैलसिंहएकता स्थल
भारत के राष्ट्रपतिशंकर दयाल शर्माविजय घाट के पास स्थित
भारत के उप प्रधानमंत्रीदेवी लालकिसान घाट के पास स्थित
भारत के प्रधानमंत्रीचंद्रशेखरजननायक स्थल[3]
भारत के प्रधानमंत्रीइंद्र कुमार गुजरालस्मृति स्थल
भारत के प्रधानमंत्रीअटल बिहारी वाजपेयीसदैव अटल विजयघाट के निकट
भारत के राष्ट्रपतिप्रणब मुखर्जी
Last Final Word

दोस्तों हमारे आज के इस आर्टिकल में हमने आपको महात्मा गांधी की समाधि  राजघाट के बारे में बताया। हम आशा करते है की आप सामान्य ज्ञान से जुडी सभी जानकारी से वाकिफ हो चुके होंगे।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आसानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते है ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट करके हमे बता सकते है, धन्यवाद्।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement