Career Guide

सरकारी शिक्षक (Government Teacher) कैसे बने?

Advertisement

नमस्कार दोस्तों। आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे की सरकारी शिक्षक (Government Teacher) कैसे बने। सरकारी शिक्षक (Government Teacher) बनने के लिए जो Process होती है After 12th,  After Graduation, या Post Graduation आप क्या कर सकते है, कौन से कोर्स आपको करने चाहिए, Test आप कौन से देंगे और जो full process है वो क्या रहती है सरकारी टीचर बनने के लिए इस सरे टॉपिक के बारे हम विस्तृत में बात करेंगे इस आर्टिकल में। तो पूरा आर्टिकल जरुर पढियेगा अगर आप सरकारी शिक्षक बनना चाहते है तो।

सरकारी शिक्षक (Government Teacher) के Types और योग्यता

अगर आप सरकारी टीचर बनना चाहते है तो आपको मालूम होना चाहिए की टीचर कितने types के होते है। हमे School में 3 types के टीचर पढ़ाते है। Class Wise वह अलग होते है जैसे की,

  1. Primary Teacher
  2. TGT (Trained Graduate Teacher)
  3. PGT  (Post Graduate Teacher)

यह 3 types के टीचर होते है जो School में पढ़ाते है, School में कहने को टीचर ही कहा जाता है लेकीन यह 3 types में विभाजन होते है क्लास के अनुसार।

Advertisement

जरुर पढ़े: एयर होस्टेस कैसे बने पूरी जानकारी

Primary Teacher (प्राथमिक शिक्षक)

प्राइमरी टीचर 1st क्लास के छात्रो से लेकर 5th क्लास के छात्रो तक पढ़ाते है। अगर आप Primary Teacher बनना चाहते है 5th क्लास के बच्चों को पढ़ाना चाहते है तब आप प्राथमिक शिक्षक  कहलायेंगे। इसके लिए योग्यता 12th पास होती है minimum 50% मार्क्स के साथ, किसी भी स्ट्रीम से किसी भी सब्जेक्ट से आप ने 12th पास कर लिया है तो आप Primary Teacher बन सकते है लेकिन इसके लिए कुछ Condition है जैसे की आपका बी.एड जरुरी है, after 12th आपको बी.एड करना होगा जो 4 years का रहेगा। जो नयी शिक्षा निति 2020 में लागु की गई है उसमे यह changes किया गया है, बी.एड Compulsory किया गया है शिक्षक बनने के लिए।

TGT (Trained Graduate Teacher)

TGT का full form Trained Graduate Teacher होता है। इसके लिए जो योग्यता होती है वह Graduation है minimum 50% मार्क्स के साथ और यह जो टीचर है वो 6th से लेकर 12th के क्लास तक पढ़ाते है। तो अगर आप 6th से लेकर 12th क्लास तक पढ़ाना चाहते है, TGT टीचर अगर आप बनना चाहते है तो इसके लिए आपका Graduation जरुरी है minimum 50% मार्क्स के साथ साथ में इसके साथ भी आपको बी.एड करना होगा क्योकि बी.एड Compulsory हो गया है इस लिए बी.एड जरुरी है लेकिन जो ग्रेजुएशन के बाद B.Ed. करेंगे तो आपको सिर्फ 2 साल का ही बी.एड कोर्स करना पड़ेगा।

PGT (Post Graduate Teacher)

PGT का full form Post Graduate Teacher होता है। अगर आप 11th और 12th क्लास के Students को पढाना चाहते है तो आप PGT Teacher कहलायेंगे इसके लिए आपका Post Graduation होना जरुरी है। after Graduation आपको PG कर लेना होगा और PG करने के बाद आपको बी.एड करना होगा और बी.एड का कोर्स सिर्फ 1 साल का ही होगा।

Advertisement

जरुर पढ़े: फैशन डिजाइनर कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में

सर्टिफिकेट जो आपको अच्छी टीचिंग जॉब पाने में मदद कर सकते हैं:

पाठ्यक्रम का नामअवधि (Duration)पात्रता (Eligibility)
Basic Training Certificate (BTC)2 yearsAt least graduation
Diploma in Education (D.Ed)1 year10+2 or its equivalent
Teacher Training Certificate (TTC)2 years10+2 or its equivalent

सरकारी शिक्षक के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam for Government Teacher)

यदि आप उच्च वेतन वाली सरकारी नौकरी चाहते हैं, तो आप प्रवेश परीक्षा के लिए CBSE (सीबीएसई) या अन्य सरकारी स्कूलों से संबद्ध स्कूलों में शिक्षण पदों के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। बीएड करने के बाद आप इन परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। शिक्षकों की भर्ती के लिए सबसे लोकप्रिय परीक्षा निम्नलिखित हैं:

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी): सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध सरकारी और राज्य के स्कूलों के लिए कक्षा I – VIII के लिए शिक्षकों की नियुक्ति के लिए सीबीएसई द्वारा यह परीक्षा आयोजित की जाती है। इच्छुक शिक्षक अपने सीटीईटी स्कोर के माध्यम से निजी स्कूलों के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी): यह परीक्षा काफी हद तक सीटीईटी परीक्षा की तरह है। हालांकि, इस परीक्षा को पास करने वाले उम्मीदवार को संबंधित राज्य बोर्ड से संबद्ध स्कूलों में शिक्षण पदों के लिए भर्ती किया जाएगा।

Advertisement

नवोदय विद्यालय समिति (एनवीएस) भर्ती परीक्षा: विभिन्न जवाहर नवोदय विद्यालयों में शिक्षक पद एनवीएस भर्ती परीक्षा के आधार पर किया जाता है। उम्मीदवार अपनी पसंद के विषयों को पढ़ाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

जरुर पढ़े: SSC एग्जाम की तैयारी कैसे करें पूरी जानकारी

सरकारी शिक्षक की सैलरी (Government Teacher’s Salary)

शिक्षण कुछ अच्छे शुरुआती वेतन प्रदान करता है, खासकर, यदि आपको स्कूल स्तर पर शिक्षक के रूप में नियुक्त किया गया हो। विभिन्न शिक्षण स्तरों पर आप निम्न सैलरी की अपेक्षा कर सकते हैं:

पदसैलरी
High School TeacherRs. 3,36,000
Head TeacherRs. 3,96,000
EducatorRs. 5,89,581
Social WorkerRs. 6,00,000
Primary School TeacherRs. 3,36,000

नोट : वेतन पैकेज एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होते हैं और विभिन्न कारकों पर निर्भर करते हैं जैसे कि किसी के शैक्षणिक और व्यावसायिक अनुभव।

शिक्षक के लिए नौकरी की भूमिकाओं के प्रकार (Types of Job Roles for Teacher)

किसी की शैक्षणिक योग्यता और रुचि के अनुसार भारत में शिक्षकों के जॉब प्रोफाइल की पर्याप्त संख्या है। नीचे लोकप्रिय शिक्षक जॉब प्रोफाइल देखें:

Advertisement

प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक (Elementary School Teachers) – प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों के लिए उनकी नौकरी की जिम्मेदारी कक्षा के लिए सामग्री तैयार करना और युवा दिमाग के लिए मजेदार गतिविधियों की योजना बनाना है। वे छात्र के माता-पिता के साथ उनकी चिंताओं को दूर करने के लिए भी लगातार संपर्क में रहते हैं क्योंकि ये वर्ष सबसे महत्वपूर्ण होते हैं और किसी के आधार के निर्माण में मदद करते हैं।

प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक (Primary School Teachers) – प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक आमतौर पर सभी विषयों को पढ़ाते हैं और छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों को पढ़ाने में विशिष्ट होते हैं। उनका काम पाठ योजना बनाना, व्यावसायिक विकास करना और पाठ्येतर गतिविधियों का संचालन करना है।

हाई स्कूल/माध्यमिक स्कूल शिक्षक (High School/Secondary School Teachers) – हाई स्कूल के शिक्षक कक्षा 9वीं से 12वीं तक पढ़ाते हैं और वे गणित या जीव विज्ञान जैसे विशिष्ट विषय के विशेषज्ञ होते हैं। हाई स्कूल के शिक्षकों को आमतौर पर संबंधित विषय को पढ़ाने के लिए मास्टर डिग्री की आवश्यकता होती है। वे छात्रों के जीवन को प्रभावित करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि इसके माध्यम से छात्र सीखते हैं और अपने सबसे महत्वपूर्ण शैक्षणिक विकल्प बनाते हैं।

विशेष शिक्षक (Special Teachers) – ये शिक्षक आमतौर पर उन छात्रों के साथ काम करते हैं जिनके पास सीखने, शारीरिक, मानसिक या भावनात्मक अक्षमताओं की एक विस्तृत श्रृंखला है। उनकी नौकरी की भूमिका सामान्य शिक्षा का पाठ बनाना और विभिन्न विषयों जैसे पढ़ना, लिखना एक पैटर्न और विधि में पढ़ाना है जो छात्रों के लिए समझने में आसान हो। इसके अलावा, वे गंभीर रूप से विकलांग छात्रों को बुनियादी कौशल भी सिखाते हैं।

जरुर पढ़े: रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने?

सरकारी शिक्षक (Government Teacher) बनने के फायदे

बच्चों पर आपके प्रयासों के प्रत्यक्ष प्रभावों के कारण एक शिक्षक का पेशा अत्यधिक संतोषजनक है।

अध्यापन एक बहुत ही सम्मानजनक कार्य है क्योंकि यह वही है जो युवा दिमाग को आकार देता है।

एक शिक्षक के रूप में, आपको बहुत सारी छुट्टियां मिलती हैं और काम के घंटे भी बहुत लंबे नहीं होते हैं।

Advertisement

शिक्षण समाज में सबसे सम्मानजनक नौकरियों में से एक है क्योंकि वे अच्छे नागरिकों को नैतिक जिम्मेदारी के साथ लाने में मदद करते हैं।

सरकारी शिक्षक (Government Teacher) बनने के नुकसान

शिक्षण के लिए बहुत अधिक जुनून, धैर्य और संयम की आवश्यकता होती है, क्योंकि हर बच्चा अलग होता है और आपको अलग-अलग शिक्षण पद्धति का प्रयास करने की आवश्यकता होती है जो कई बार बहुत थका देने वाला हो सकता है।

शिक्षण पेशा बहुत मांग वाला है क्योंकि यह लगातार आपसे अपने कौशल और ज्ञान को अद्यतन करने की मांग करता है ताकि आप इसे अपने छात्रों के साथ साझा कर सकें।

एक शिक्षक को कई नैतिक दायित्वों का सामना करना पड़ता है और जो कई बार उनके निजी जीवन में बाधा उत्पन्न कर सकता है।

एक शिक्षक का वेतन अन्य व्यवसायों की तुलना में तुलनात्मक रूप से कम होता है।

जरुर पढ़े: डॉक्टर कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में पढ़े

Final Last Word:

हम उम्मीद करते हे की यह सरकारी शिक्षक (Government Teacher) कैसे बने आर्टिकल के जरिये आपको पता चल गया होगा जेसे की सरकारी शिक्षक (Government Teacher) के Types और योग्यता, सरकारी शिक्षक के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam for Government Teacher), सरकारी शिक्षक की सैलरी (Government Teacher’s Salary), शिक्षक के लिए नौकरी की भूमिकाओं के प्रकार (Types of Job Roles for Teacher), सरकारी शिक्षक (Government Teacher) बनने के फायदे और नुकसान से जुड़ी सभी माहिती से आप वाकिफ हो चुके होगे।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आशानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अछी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए। और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे बता सकते हे, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement