Career Guide

कंपनी सेक्रेटरी (CS) कैसे बने?

Advertisement

नमस्कार दोस्तों! आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे की कंपनी सेक्रेटरी (CS) – Company Secretary कैसे बने। कॉरपोरेट जगत में हाल की गड़बड़ी ने व्यावसायिक पेशेवरों विशेषकर शेयरधारकों के विश्वास को झकझोर दिया है। वर्तमान में, संगठनों द्वारा अपने आंतरिक मामलों के प्रबंधन में कॉर्पोरेट पारदर्शिता और विश्वसनीयता प्रदर्शित करने की भारी मांग है। अधिकांश कंपनियां हितधारकों का विश्वास बनाए रखने के लिए नक्काशी कर रही हैं। संगठनों के शीर्ष प्रबंधन सामान्य कामकाज के प्रबंधन में व्यस्त हैं, उन्हें हितधारकों के साथ घुलने-मिलने और अपना विश्वास बनाए रखने / हासिल करने का समय मुश्किल से मिलता है। इससे निपटने के लिए, संगठन/कंपनियां कंपनी सचिवों के रूप में योग्य और कुशल पेशेवरों को नियुक्त करती हैं। एक कंपनी सेक्रेटरी (Company Secretary) एक कॉर्पोरेट इकाई के सुचारू कामकाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। कोई भी विश्वास कर सकता है कि कंपनी सचिव (Company Secretary) के रूप में करियर न केवल रोमांचक है, बल्कि पुरस्कृत भी है।

कंपनी सेक्रेटरी बनने की पात्रता (Eligibility to become Company Secretary)

कंपनी सेक्रेटरी (Company Secretary) बनने के इच्छुक छात्र को कक्षा 12 के बाद तीन चरणों को पास करना होगा। कंपनी सचिव बनने में शामिल तीन चरणों में फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल शामिल हैं। भारत में कंपनी सचिव संस्थान (आईसीएसआई) आईसीएसआई फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल प्रदान करता है।

विषय संयोजन: क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने के उत्साह के साथ कक्षा 12 में किसी भी स्ट्रीम वाले उम्मीदवार कंपनी सेक्रेटरी कैरियर के लिए पात्र हैं।

Advertisement

जरुर पढ़े: Chartered Accountant (CA) कैसे बने पूरी जानकारी

कंपनी सेक्रेटरी की योग्यता क्या होती है?

कक्षा 12 के बाद छात्रों को आईसीएसआई (ICSI) फाउंडेशन कोर्स करना चाहिए। फाउंडेशन कोर्स की अवधि आठ महीने है। प्रवेश के तीन साल के भीतर फाउंडेशन कोर्स पास करना अनिवार्य है।

आईसीएसआई फाउंडेशन कोर्स को क्वालिफाई करने के बाद छात्र आईसीएसआई इंटरमीडिएट कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। हालांकि, स्नातक और स्नातकोत्तर (ललित कला के छात्रों को छोड़कर) फाउंडेशन पाठ्यक्रम में जाए बिना सीधे इंटरमीडिएट पाठ्यक्रम में नामांकन कर सकते हैं।

ICSI इंटरमीडिएट कोर्स को क्लियर करने वाले छात्र ICSI कोर्स के अंतिम चरण, यानी फाइनल के लिए पात्र हैं।

Advertisement

Company Secretary में कोर्स करने वाले छात्रों के लिए प्रशिक्षण सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। छात्रों को इंटरमीडिएट स्तर के दौरान और कंपनी सेक्रेटरी पाठ्यक्रम की अंतिम स्तर की परीक्षा के बाद अल्पकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों से गुजरना होगा।

आईसीएआई की एसोसिएट सदस्यता प्राप्त करने के लिए, इंटरमीडिएट या अंतिम स्तर के पाठ्यक्रम के पूरा होने के बाद व्यावहारिक प्रशिक्षण प्राप्त करना अनिवार्य है।

व्यावहारिक प्रशिक्षण और अंतिम स्तर के आईसीएसआई पाठ्यक्रम के सफल समापन के बाद, ये छात्र एसोसिएट कंपनी सचिव के रूप में पात्र हैं।

कंपनी सचिव का करियर एसोसिएट कंपनी सेक्रेटरी के रूप में योग्यता प्राप्त करने के बाद ही शुरू होता है।

जरुर पढ़े: वकील (Advocate) कैसे बने पूरी जानकारी

Advertisement

कंपनी सेक्रेटरी की नौकरी भूमिकाओं के प्रकार (Types of Job Roles for Company Secretary)

विभिन्न क्षमताओं की जाँच करें जिसमें एक कंपनी सेक्रेटरी काम कर सकता है। कंपनी सेक्रेटरी के जॉब प्रोफाइल में निम्नलिखित शामिल हैं:

कंपनी रजिस्ट्रार (Company Registrar): कंपनी रजिस्ट्रार को कंपनी/संगठन के पदानुक्रम का एक महत्वपूर्ण घटक माना जाता है।

कानूनी सलाहकार (Legal Advisor): एक कानूनी सलाहकार किसी कानूनी विवाद या मुद्दे के मामले में कंपनी की सहायता करता है। कानूनी सलाहकार यह भी सुनिश्चित करते हैं कि कंपनी नौकरशाही और वैधानिक निर्देशों, प्रतिभूतियों और कॉर्पोरेट कानूनों का अनुपालन करती है।

मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (Chief Administrative Officer): एक मुख्य प्रशासनिक अधिकारी कंपनी की सामान्य प्रशासनिक गतिविधियों की निगरानी करता है। ये अधिकारी कंपनी के सभी कानूनी और अन्य गोपनीय दस्तावेजों की सुरक्षा के लिए भी जिम्मेदार हैं।

कॉर्पोरेट प्लानर (Corporate Planner): कॉरपोरेट प्लानर कंपनी के विस्तार के अवसरों पर एक समझदार नजर रखता है। ये अधिकारी कंपनी के भीतर या बाहर विलय, संयुक्त उद्यम, सहयोग और अधिग्रहण का भी ध्यान रखते हैं।

Advertisement

प्रमुख सेक्रेटरी (Principal Secretary): एक प्रमुख सेक्रेटरी की जिम्मेदारी कॉर्पोरेट बैठकों के सभी पहलुओं जैसे बोर्ड की बैठकों, वार्षिक आम बैठकों, निजी और सरकारी प्रतिनिधिमंडलों और महत्वपूर्ण ग्राहकों के साथ बैठक का प्रबंधन करना है।

कॉर्पोरेट नीति निर्माता (Corporate Policymaker): एक कॉर्पोरेट नीति निर्माता की जिम्मेदारी एक कंपनी की अल्पकालिक और दीर्घकालिक कॉर्पोरेट नीतियों की योजना बनाना है। ये नीति निर्माता कंपनी बोर्ड को सलाह देते हैं कि जब समय-समय पर समीक्षा के लिए मौजूदा नीतियों को लाया जाता है।

निदेशक मंडल के सदस्य (Member of Board of Directors): कभी-कभी, कंपनी सेक्रेटरी सचिवीय और विशेषज्ञ सलाह प्रदान करने के लिए कंपनी के निदेशक मंडल के सदस्यों में से एक की जिम्मेदारी लेते हैं।

विविध उत्तरदायित्व (Miscellaneous Responsibilities): ऊपर वर्णित भूमिकाओं के अलावा, कंपनी सचिवों को कंपनी के कर प्रबंधन, कर दाखिल करने और कर के आकलन के लिए भी आवश्यक है।

जरुर पढ़े: अपराध जांच विभाग (सीआईडी) अधिकारी कैसे बने?

कंपनी सेक्रेटरी के लिए रोजगार के अवसर (Employment Opportunities for Company Secretary)

एक योग्य सीएस सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों, वित्तीय संस्थानों और बैंकों में नौकरी खोजने में सक्षम है। कंपनी कानून बोर्डों, विभिन्न सरकारी विभागों, कंपनी मामलों के विभाग आदि में कंपनी सचिवों की भी आवश्यकता होती है। शीर्ष संगठन कंपनी सचिवों को आकर्षक वेतन पैकेज प्रदान करते हैं।

कंपनी सेक्रेटरी भी प्रैक्टिस का प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद अपनी खुद की कंसल्टेंसी स्थापित कर सकते हैं।10 लाख रुपये से 2 करोड़ रुपये तक के चुकता शेयर वाली कंपनियों को कॉर्पोरेट अनुपालन प्रमाण पत्र जारी करने के लिए अभ्यास करने वाले कंपनी सचिवों की सेवाओं को नियुक्त करना / नियोजित करना आवश्यक है।

चूंकि कंपनी सचिवों को व्यापक विषयों का ज्ञान है, वे विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में व्याख्याता/विजिटिंग फैकल्टी का पद ग्रहण कर सकते हैं।

Advertisement

कंपनी सेक्रेटरी को सैलरी कितनी मिलती है? (CS Salary in Hindi)

विविध क्षेत्रों में कंपनी सचिव संतोषजनक वेतन अर्जित करते हैं। अधिकांश कंपनियां अत्यधिक कुशल और अनुभवी कंपनी सचिव के लिए अधिक भुगतान करती हैं। कंपनी सेक्रेटरी की औसत वेतन संरचना का विवरण नीचे दिया गया है।

नौकरी प्रोफ़ाइलप्रारंभिक वेतन प्रति वर्ष (INR में)मध्य स्तरीय वेतन प्रति वर्ष (INR में)वरिष्ठ स्तर का वेतन प्रति वर्ष (INR में)
कंपनी सचिवRs. 3,00,000Rs. 6,00,000Rs. 9,00,000 – 12,00,000
क़ानूनी सलाहकारRs. 3,00,000Rs. 4,00,000 – 5,00,000Rs. 10,00,000
प्रमुख सचिवRs. 3,00,000Rs. 6,00,000Rs. 9,00,000 – 12,00,000

नोट: उपरोक्त आंकड़े एक अनुमान हैं और अलग-अलग व्यक्ति और कंपनी से कंपनी में भिन्न हो सकते हैं।

जरुर पढ़े: रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने?

कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए पुस्तकें और अध्ययन सामग्री

कंपनी सचिव और भावी उम्मीदवार ज्ञान बढ़ाने के लिए नीचे सूचीबद्ध कुछ पुस्तकों का उल्लेख किया हैं :

  • Company Law by Sangeet Kedia
  • CS Executive Company Law by NS Zad
  • Tax Laws and Practice by Sangeet Kedia
  • Cost and Management Accounting by NS Zad
  • Economic and Commercial Laws by Tejpal Seth
  • Taxman Company Accounts and Auditing by NS Zad

कंपनी सचिव बनने के फायदे (Pros of becoming a Company Secretary)

  • कंपनी सेक्रेटरी के रूप में करियर की बाजार में मांग बढ़ रही है।
  • बकाया पारिश्रमिक के साथ पेशे में जबरदस्त वृद्धि हुई है।

कंपनी सचिव बनने के नुकसान (Cons of becoming a Company Secretary)

  • आईसीएसआई (ICSI) कोर्स की विदेशों में ज्यादा पहचान नहीं है।
  • चूंकि पद से जुड़ी जिम्मेदारियां और भूमिकाएं अत्यधिक जवाबदेह और दृश्यमान होती हैं, इसलिए कंपनी सचिवों पर परिणाम देने का लगातार दबाव होता है।

जरुर पढ़े: IAS अधिकारी कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में

Final Last Word:

हम उम्मीद करते हे की यह आर्टिकल के जरिये आपको पता चल गया होगा की कंपनी सेक्रेटरी कैसे बने और  कंपनी सेक्रेटरी से जुड़ी सभी माहिती से आप वाकिफ हो चुके होगे।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आशानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अछी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए। और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे बता सकते हे, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement