Career Guide

बी.टेक कोर्स की पूरी जानकारी

Advertisement

नमस्कार दोस्तों! हमारे जीवन में एक सक्सेफुल इंसान बनने के लिए पढाई बहुत ही जरुरी है। अब जैसे ही 10thकक्षा पास होते ही आपको करियर के बारे में सोचना होता है। उसी हिसाब से सब्जेक्ट को सिलेक्ट करना पड़ता है। कुछ स्टूडेट आगे जाके डोक्टर बनना चाहते है, तो कोई इंजिनियर बनना चाहता है। जैसे ही आपने 12th क्लास पास कर लिया तो आपको आगे पढाई करनी होती है। इस लिए कही लोग ऐसा सोचते है की वे आगे की पढाई बीटेक में करे। परन्तु बीटेक करने से पहले यह जानना जरुरी है की बीटेक कोर्स क्या होता है ? बी.टेक कोर्स कैसे करे?, बी.टेक कोर्स में क्या पढाया जाता है? बी.टेक कोन कर सकता है ? और बी.टेक करने से क्या फायदा हो सकता है? बी.टेक कितने साल का कोर्स होता है?, इस की फीस कितनी होती है?, बी.टेक करनी की योग्यता क्या होती है ? हमारे इस आर्टिकल में हम आपको बी.टेक के बारे में पूरी जानकरी देंगे। बी.टेक कोर्स एक बहुत ही जाना माना कोर्स है। इजीनियारिंग के ऐसे कई छात्र होते है जो 12th कक्षा पास करने के बाद इस कोर्स को करना चाहता है। और इसी कोर्स में अपना करियर बनाना चाहते है।

जरुर पढ़े: B.Tech और B.E कोर्स में क्या अंतर है?

बी.टेक कोर्स क्या है? (What is B.Tech Course)

बी.टेक का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ़ टेक्नोलाजी (Bachelor of Technology) होता है। जिसे शॉट में बी.टेक भी कहा जाता है। बी.टेक कोर्स एक बैचलर इंजिनयरिंग कोर्स है। यह कोर्स पूरा हो ने में पुरे 4 साल लगते है। अगर आपको कम्प्यूटर इंजीनियरिंग करना है या फिर सिविल इंजिनयरिंग बनना चाह्ते है तो आप बी.टेक कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते है। बी.टेक में एक कोर्स नही है, बहुत सारे कोर्स है जो आप कर सकते है। अगर आप इंजिनयरिंग की पढ़ाई करना चाहते है तो आप बी. टेक कोर्स कर सकते है। इसके अलावा एक और कोर्स है बैचलर ऑफ़ इंजिनियर यानि बी.इ यह भी सेम कोर्स है। जिसे पढ़ कर आप इंजीनियरिंग की डिग्री पा सकते है।

Advertisement

बी.टेक के कुछ प्रोपुलर कोर्स:

  • सिविल इंजीनियरिंग में बी.टेक
  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में बी टेक
  • इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में बी टेक
  • बी टेक (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग)
  • बी.टेक (इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग)
  • बी.टेक इन मेकेनिकल इंजीनियरिंग
  • सूचना प्रौद्योगिकी में बी.टेक

जरुर पढ़े: PGDCA Course के बारे में पूरी जानकारी

बी.टेक के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है ?

बी.टेक एक ग्रेजुएशन लेवल का डिग्री कोर्स है।इस लिए आप किसी भी इंजीनियरिंग कॉलेज में बी.टेक के लिए एड्मिसन लेने से पहले आपकी 12th क्लास की पढाई पूरी होनी चाहिए। और बी.टेक में पढाई के लिए 12th क्लास में साइंस लेना जरुरी है और एक जरुरी बात की साइंस विषय में आपको मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री विषय का होना भी आवश्यक है। बी.टेक के एड्मिसन के लिए आपको 12th क्लास में कम से कम 60%मार्कस होने चाहिए तभी आप बी.टेक में एडमिशन ले सकते है। इसके अलावा जिसके पास इंजीनियरिंग फिल्ड डिप्लोमा है वह भी बी.टेक कोर्स में एडमिशन ले सकते है।उदा.अगर आपने 10th या फिर 12 thक्लास के बाद polytechnic DIPLOMA किया है तो आप बी.टेक में सीधा एड्मिसन ले सकते है।

बी.टेक कोर्स कैसे करे?

बी.टेक कोर्स में एक कोर्स नही होता कही सारे कोर्स आते है। बी.टेक कोर्स करने के लिए आपको कही सारे सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज मिल सकते है। जहा से आप अपने बी.टेक कोर्स की पढाई कर सकते है। बी.टेक की पढाई बहुत ही मुश्केल होती है। इस लिए आपको मन लगा के बी.टेक की पढाई करनी होगी। तभी आप एक अच्छे और काबिल इंजीनियर बन सकते है। बी.टेक कोर्स करने का कोई तरीका नही है आप बी.टेक प्राइवेट कॉलेज में डोनेशन करके भी डायरेक्ट एड्मिसन ले सकते है। अगर आपको सरकारी कालेज में बी. टेक कोर्स करना है। तो आपको एंट्र्स एग्जाम देनी होगी अगर आप इस एग्जाम में पास होते है। तो आपको एड्मिसन मील सकता है। इस कोर्स को करने में बहुत ही खर्चा है। प्राइवेट कॉलेज में बी.टेक करने पर बहुत पैसा लगेगा अगर आप सरकारी कॉलेज में बी.टेक करते है। तो उसे कम खर्च होगा। हर कॉलेज में फीस अलग अलग होती है। अगर आपको आगे जा के आपना करिया बनाना है तो आप एंट्रस एग्जाम दे जैसे की आईआई टी बी.टेक में हर कॉलेज अपने हिसाब से एंट्र्स टेस्ट लेती है।

12th क्लास पास करे साइंस सब्जेक्ट से

Advertisement

बी.टेक की पढाई के लिए आपको सबसे पहले 12th क्लास की पढाई पूरी करनी होगी वो भी साइंस सब्जेक्ट ले के और साइंस सब्जेक्ट में आपको मैथ्स, केमिस्ट्री, फिजिक्स विषय को चुनना होगा अगर आप यह विषय लेकर 12th क्लास में कम से कम 60% मार्कस से पास होना होगा तब जाके आप बी.टेक कोर्स में एड्मिसन ले सकते है।

  • 10th पास करे अच्छे मार्कस से
  • 12th क्लास में फिजिक्स,केमिस्ट्री, मैथ्स विषय ले
  • 12th क्लास में 60% मार्कस लाये।

जरुर पढ़े: MCA Course की पूरी जानकारी

बी.टेक कोर्स के लीए एंट्र्स एग्जाम क्लीयर करे

भारत में इंजीनियरिंग बहुत ही प्रख्यात करियर के ऑप्शन में से एक है।हर साल लाखो स्टूडेट्स बी.टेक करने के लिए एड्मिसन लेने की कौशिश करते है। इस वजह से अच्छी कॉलेज एडमिशन के लिए बहुत ज्यादा COMPTITION होती है। जो बी.टेक करना चाह्ते है उन्हें एडमिशन लेने के लिए एंट्र्स एग्जाम देनी पड़ती है। परन्तु एंट्र्स एग्जाम हर किसी कॉलेज में नही होती है। कुछ कोलेजस बिना एंट्र्स एग्जाम के भी एड्मिसन देती है। लेकिन एंट्र्स एग्जाम देने से आपको काफी फायदा होगा अगर आप एंट्र्स एग्जाम देते है तो आपको अच्छी कोलेज या यूनिवर्सिटी मिल सकती है। अगर आप एंट्र्स एग्जाम में पास हो गए है तो आप बी.टेक कोर्स के लिए एड्मिसन ले सकते है। आपको आपके एंट्र्स एग्जाम के मार्कस आधारित आपको कॉलेज मिलेगा। आपको किसी भी विषय में इंजिनियर पढाई करनी है।

बी.टेक एंट्रस एग्जाम

हर साल लग भग 11 लाख स्टूडेंट इंजीनियर बनने के लिए एंट्र्स एग्जाम देते है एंट्र्स एग्जाम कई तरह के होते है।
बीटेक करने के लिए आपको एंट्रेस एग्जाम देना होता है। नेशनल लेवल पर एंट्र्स एग्जाम होती है। और यह एग्जाम भारत के किसी भी राज्य के स्टूडेट दे सकते है। कई सरकारी और प्राइवेट कॉलेज में इस लेवल की एग्जाम होती है और यह एग्जाम 2 तरह की होती है।

  • JEE MAIN: JOINT ENTRANCE EXAMINATION(MAIN)
  • JEE ADVANCED: JOINT ENTRANCE EXAM (ADVANCED)

बी.टेक कोर्स की पढाई कैसे करे?

कॉलेज एडमिशन हो जाए उसके बाद आपको बी.टेक इंजीनियर की पढाई पूरी करनी होगी। यह कोर्स 4 साल का आता है। आपको अच्छे से मन लगा के पढाई करनी होगी तब जाके आपको एक अच्छा प्लेसमेंट मिलेगा जिसे आपको एक अच्छी और बेहतर कंपनी में जॉब मिल सकती है।

Advertisement

जरुर पढ़े: ग्रेजुएशन के बाद क्या करें एमबीए या एमसीए ?

बी.टेक करने के लिए टॉप 6 इंजीनियरिंग कॉलेज

  • IIT BOMBAY-इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, बॉम्बे (IITB)
  • IIT DELHI-इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, दिल्ही (IITD)
  • IIT MADRAS-इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, चेन्नई (IITM)
  • IIT KHARAGOUR-इंडियन् इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी , खड़कपुर (IITKGP)
  • BIT MESRA-बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  • IIT KANPUR-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी ,कानपूर (IITK)

बी.टेक करने के बाद नोकरी या पढाई

बीटेक करने के बाद क्या करना चाहिए ? बी.टेक करने के बाद आपके पास दो ऑप्शन है। अगर आप नौकरी करना चाह्ते है और पढाई नही करना चाहते है। तो किसी भी प्राइवेट कंपनी में जॉब कर सकते है लेकिन आप आगे पढाई करना चाहते है तो आपके पास आगे पढने के लिए 2 ऑप्शन है

एम्.टेक(M.TECH)या एम्.इ ( M.E.)

बी.टेक करने के बाद आप एम्.टेक या फिर एम्.इ कर सकते है। ये दोनों ही पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री है। और यह भी इंजीनियरिंग की कॉलेज से की जा सकती है। एम्.टेक का फुल फॉर्म (मास्टर ऑफ़ टेक्नोलॉजी )और एम्.इ का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग होता है। अगर आप IIT और NIT जैसे इंडिया के टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज से एम.टेक करना चाहते है तो आपको GATE(GRADUATE APTITUDE TEST) देना पड़ेगा।

एमबीए (MBA)

Advertisement

ज्यादातर इंजीनियरिंग स्टूडेट बी.टेक के बाद एमबीए की पढाई करने का विकल्प लेते है। एमबीए की पढाई पूरी करने के बाद उन स्टूडेट को मैनेजमेंट डिग्री मिलती है। कई स्टूडेंट बी.टेक के बाद campus placements के जरिए नैकरी पाते है। जहा से उन्हें काम का अनुभव मिल जाता है। और उसके कुछ साल बाद वह एमबीए करने के लिए जाते है। और एमबीए कॉलेज में एड्मिसन के लिए एंट्रेस एग्जाम देनी होती है।

जरुर पढ़े: BBA Course की पूरी जानकारी

बी.टेक करने के बाद नौकरी के अवसर

B.Tech डिग्री मिलने के बाद जॉब्स के बहुत सारे विकल्प है। जैसे की प्राइवेट कंपनी, सरकारी क्षेत्र, या फिर पीयूसी में जॉब्स कर सकते है। तिन सेक्टर में जॉब के अवसर मिलते है। पहले तो प्राइवेट कंपनी में ज्यादातर टेक्निकल की नोकरी पर बहुत ज्यादा जोर होता है बी.टेक में इलेक्ट्रिनिक, कम्प्यूटर साइंस, इन्फोमेशन साइंस, मिकैनिकल, सिविल और इन्फोमेशन टेक्नोलाजी आदि कोर्स के हिसाब से अलग अलग कंपनी में नोकरीयां उपलब्ध होती है। अलग अलग कंपनीयो में अलग अलग जरूरत होती है जैसे की हार्डवेयर इंडस्ट्रीज में अच्छी नोलेज वाले मकैनिकल इंजीनियरों की भर्ती की जाती है।

सरकारी सेक्टर में नौकरी के अवसर

सरकारी सेक्टर की नौकरी को दो विभागों में विभाजित किया गया है। एक है प्रशासकीय नौकरिया जिनमे एसएससी यानि (स्टाफ सिलेक्शन कमीशन ), सिजिएल, बैंक, पीओ, आईएएस, सिविल सर्विस, क्लर्क लेवल की नौकरिया सामिल है।

सरकारी विभाग में तकनिकी नौकरियो का वितरण नीम्न प्रकार से है :

एग्जिक्युटिव इंजिनियर: एग्जिक्युटिव इंजिनियर की जॉब के लिए इंजिनियरिंग सर्विस एग्जाम (ईएसई) या आईएएस (इंडियन इंजिनियरिंग सर्विसेज) की परीक्षा को पूरा करना होता है। एग्जिक्युटिव इंजिनियर: एग्जिक्युटिव इंजिनियर की जॉब के लिए इंजिनियरिंग सर्विस एग्जाम (ईएसई) या आईईएस (इंडियन इंजिनियरिंग सर्विसेज) का एग्जाम क्लियर करना होता है।

असिस्टेंट इंजिनियर: अलग विभाग के नियम अलग होते हैं।

जूनियर इंजिनियर: जूनियर इंजिनियर बनने के लिए एसएससी जेई/एई परीक्षा देनी पड़ती है। एग्जाम में बैठने के लिए बी.टेक, डिप्लोमा या बी.टेक से हाई क्वॉलिफिकेशन होना बहुत ही जरूरी है। सिर्फ इलेक्ट्रिकल, मकैनिकल और सिविल ब्रांच के कैंडिडेट्स को इन एग्जाम में बैठने की अनुमति मिलती है। सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 28 साल है।

Advertisement

जरुर पढ़े: एमबीए कोर्स की पूरी जानकारी

B.Techकी फ़ीस कितनी होती है?

सरकारी बीटेक कॉलेज में एक साल की फीस लगभग 80 हजार से एक लाख रूपये होती है। जबकि प्राइवेट यूनिवर्सिटी या कॉलेज में यह लगभग 1.5 से 2 लाख प्रति साल होती है।

बी.टेक कोर्स के बाद सैलरी कितनी मिलती है?

अगर मैं सैलरी की बात करूं तो बीटेक के बाद 30,000 से 40,000 रूपये एक महीने के तो होते ही है और अगर आप एक अच्छे और होनहार स्टूडेंट हैं तो आपको किसी अच्छी कंपनी में 70,000 से 80,000 रूपये एक महीने के मिल सकते हैं।

इंडिया के टॉप लेवल के IIT कॉलेजों के स्टूडेंट को तो इससे भी बहुत ज्यादा बड़े पैकेज मिलते हैं। IIT मद्रास, IIT दिल्ली, IIT कानपुर जैसे देश के टॉप रैंक कॉलेजों में एप्पल, गूगल, ऐमजॉन, माइक्रोसॉफ्ट, इंटेल जैसी बड़ी इंटरनेशनल कंपनियों के कैंपस आते हैं जो 30-40 लाख प्रति वर्ष के मिलते है। कभी-कभी तो कुछ खास होशियार स्टूडेंट्स को 1 करोड़ से भी ज्यादा के पैकेज देते है।

बी.टेक कोर्स करने के फायदे

  • ये टेक्निकल फील्ड से जुड़ा एक उच्च स्तरीय कोर्स है इसमें स्टूडेट को बहुत ज्यादा ज्ञान मिलता है। और नई-नई कौशल्य सीखने को मिलती है।
  • बीटेक के बाद बड़ा पद और बहुत अच्छी सैलरी मिलती है।
  • बीटेक के बाद करियर के बहुत सारे रास्ते खुल जाते हैं।
  • बीटेक में इतना नोलेज दिया जाता है कि स्टूडेट स्वयं की कंपनी या फिर बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

बी.टेक कोर्स के नुकसान

  • इस कोर्स की शैक्षणिक अवधि किसी अन्य कोर्स की अपेक्षा से ज्यादा होती है।
  • यह बहुत ही खर्चीला कोर्स है।
  • बीटेक की पढ़ाई दूसरे कोर्सों के अपेक्षा मुश्केली भर्ती होती है।
  • बीटेक कॉलेज सामन्यतः बड़े शहरों में ही होते है।

जरुर पढ़े: पीएचडी क्या है? कैसे करे पूरी जानकारी

Last Final Word :

दोस्तों, हम उम्मीद करते है की बी.टेक कोर्स की पूरी जानकारी के बारे में इस आर्टिकल के जरिये आपको पता चल गया होगा जैसे बी.टेक कोर्स क्या है?, बी.टेक के कुछ प्रोपुलर कोर्स, बी.टेक के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होती है?, बी.टेक कोर्स कैसे करे?, बी.टेक कोर्स की पढाई कैसे करनी चाहिए?, बी.टेक कोर्स करने के बाद नोकरी या पढाई क्या करे?, बी.टेक करने के बाद नौकरी के अवसर, बी.टेक करने के लिए टॉप 6 इंजीनियरिंग कॉलेज, सरकारी सेक्टर में नौकरी के अवसर, B.Tech की फ़ीस कितनी होती है?, बी.टेक कोर्स के बाद सैलरी कितनी मिलती है?, बी.टेक कोर्स करने के फायदे, बी.टेक कोर्स के नुकसान जैसी सभी माहिती से आप वाकिफ हो चुके होगे।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आशानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए। और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे बता सकते हे, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement