General Knowledge

BOBBLE क्या है?

Advertisement

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम बोबल के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। BOBBLE का पूरा नाम Bay of Bengal Boundary Layer Experiment होता है। जिसके अंतर्गत मानसून उष्णकटिबंधीय चक्रवात और मौसम से संबंधित सटीक भविष्यवाणी के लिए बेंगलुरु के भारतीय विज्ञान संस्थान और यूनाइटेड किंगडम के ईस्ट एंगलिया विश्वविद्यालय ने साथ मिलकर एक कार्य योजना बनाई है। इस योजना के अंतर्गत BOBBLE मानसून प्रणाली पर बंगाल की खाड़ी में चलने वाली सामुद्रिक प्रतिक्रिया के प्रभाव की जांच पड़ताल की जाती है। इस परियोजना के लिए वित्त का प्रावधान भारत के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय और यूनाइटेड किंगडम की प्राकृतिक शोध परिषद के द्वारा करने मेंं आता है। दक्षिण एशियाई क्षेत्र में मानसून के आधार में बंगाल की खाड़ी़ एक आधारभूूत भूमिका का निर्माण करती।

जरुर पढ़ें : सूर्य के बारे में जानकारी

दक्षिण बंगाल की खाड़ी में चलने वाली प्रमुख घटनाएं

  • दक्षिण पश्चिम मानसून की नमकीन धारा जिसे Saline Southwest Monsoon Current भी कहा जाता है, वह बंगाल की खाड़ी में नमक और समुद्री सतह के तापमान को नियंत्रण में रखने वाली एक मुख्य धारा है जिसका नियंत्रण स्वयं स्थानीय और दूरस्थ कारकों से किया जाता है। इस धारा का संबंध हिंद महासागर के व्यापक क्षेत्र में मौसम में होने वाले बदलाव से जुड़ा है।
  • पश्चिमी विषुवत रेखीय हिंद महासागर के कारण दक्षिण पश्चिम मानसून धारा में नमक की मात्रा ज्यादा होती है, जोकि सोमालियाई धारा, विषुवतीय अंतर धारा तथा दक्षिण पश्चिम मानसून धारा के माध्यम से बंगाल की खाड़ी से जुड़ा है।
  • सोमालियाई धारा और दक्षिण पश्चिम मानसून धारा के बीच में होने वाले मौसमी बदलाव रेलवे मार्ग की स्विच के जैसे काम करता हैं और उत्तरी हिंद महासागर की विभिन्न घाटीयों की ओर जल प्रवाह को मोड़ देता है।

जरुर पढ़ें : कुषाण वंश के महान राजा कनिष्क

Advertisement

मानसून क्या है?

  • मौसम में बदलाव आने की वजह से जब मौसमी हवाई अपनी दिशा बदल लेती है तो उसे मानसून कहते हैं। गर्मी के समय में यह मौसमी हवाएं समुद्र की सतह पर से धरती की ओर आगे बढ़ती है जबकि जाड़े में धरती से समुद्र तरफ मौसमी हवाई आती है।
  • मानसून भारतीय उपमहाद्वीप दक्षिण पूर्व एशिया और मध्य पश्चिम अफ्रीका के कुछ प्रदेश के भुभागों में होता है।
  • भारत के मानसून में अधिक प्रमाण में ताप का संवहन देखने को मिलता है। मानसून का संबंध एल नीनो जैसी प्रत्येक दूसरे से लेकर 7 वर्ष होने वाली घटना तथा ला लीना से जुड़ा है।

जरुर पढ़ें : चोल साम्राज्य की प्रशासन और वास्तुकला

एल-नीनो और भारतीय मानसून

  • एल नीनो एक प्रकार की संकरी गर्म जल धारा का प्रवाह है जोकि दिसंबर महीने के दिनों में पैरु के तट के समीप बहती है। स्पेनिश भाषा में इसे बालक ईसा के नाम से जाना चाहता है। क्रिसमस के आसपास यह धारा जन्म लेती है जिसके कारण उसका यह नाम पड़ा है।
  • यह पेरूवियन अथवा हंबोल्ट ठंडी धारा की अस्थाई प्रति स्थापक के रूप में है। यह सामान्य रूप से तट के साथ ही बहती है।
  • इसका प्रवाह हर 3 साल से लेकर 7 साल में एक बार प्रवाहित होता है। जिसके कारण विश्व के उष्णकटिबंधीय विस्तार में बड़े पैमाने पर बाढ़ और सूखे की परिस्थिति उत्पन्न होती है।
  • कई बार यह प्रवाह बहुत गहन हो जाता है और पैरू के तट के जल के तापमान को 10 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ा देता है। प्रशांत महासागर के उष्णकटिबंधीय जल की उष्णता भूमंडलीय स्तर पर वायुदाब तथा हिंद महासागर की मानसून के साथ-साथ पवनों को भी प्रभावित करती है।
  • एल नीनो का अभ्यास करने से यह मालूम पड़ा है कि जब दक्षिणी प्रशांत महासागर में तापमान बढ़ता है तब भारत में वर्षा की मात्रा कम हो जाती है। भारत के मानसून पर इसका प्रभाव बहुत अधिक देखने को मिलता है।
  • मौसम से संबंधित वैज्ञानिकों का मानना है कि भारत में 1987 का भीषण सूखा इसी के वजह से हुआ था। जबकी वर्ष 1990 और 1991 में इसका प्रचंड स्वरूप देखा गया था। एल नीनो की वजह से देश के अधिकांश विस्तार में मानसून के आगमन मैं 5 से लेकर 12 दिनों की देरी हो गई थी।

जरुर पढ़ें : मौर्य वंश का प्रशासन

ला-निना 

एल नीनो की असर के बाद मौसम सामान्य हो जाता है परंतु कई बार सन्मार्गी पवन का प्रभाव इतना प्रबल हो जाता है कि वह मध्य तथा पूर्वी प्रशांत क्षेत्र में शीतल जल का और सामान्य चुनाव पैदा कर देता है। इस घटना को ला नीना के नाम से जाना जाता है। अगर दूसरे शब्दों में कहें तो ला नीना एल नीनो से बिल्कुल विपरीत होता है। ला निना से चक्रवाती मौसम का उद्भव देखने को मिलता है। हालांकि भारत में यह अच्छा समाचार लेकर आता है क्योंकि यह मानसून की भारी वर्षा का कारण बनता है।

जरुर पढ़ें : सातवाहन युग

Advertisement
Last Final Word

दोस्तों यह थी BOBBLE के बारे में जानकारी। हम उम्मीद करते हैं की हमारी जानकारी आपको फायदेमंद रही होगी। अगर अभी भी आपके मन में BOBBLE से संबंधित कोई भी प्रश्न रह गया हो तो हमें कमेंट के माध्यम से अवश्य बताइए।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आसानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते है ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट करके हमे बता सकते है, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement