Career Guide

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने?

Advertisement

नमस्कार दोस्तों आज कल रोजगारी की हालत किसी से छिपी नही है सरकारी नोकरी की संख्या बहुत ही कम है, जो नोकरी है उसमे हजारो लाखो की संख्या में उमेदवारो की बहुत ज्यादा लाइने है ऐसा लगता है की रोजगारी लगातार कम हो गई है और नोकरी मिल नही रही है जरूरत के हिसाब से नोकरी नही मिल रही है बेरोजगारी बढ़ रही है कई कंपनी बंध की जा रही है तो कही में कर्मचारीओ को निकाला जा रहा है जिस पोस्ट में 12th कक्षा पास की जरुरत है वहा ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री हासल उम्मीदवार अप्लाई कर रहे है। एक समय एसा भी था जब सरकारी नोकरी का कोई पूछता भी नही था सब प्राइवेट में जॉब्स करना चाहते है और आज सभी सरकारी नोकरी के पीछे भाग रहे है चाहे महिला हो या पुरुष दोनो के मामले में यही हालात इन दिनों है, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता के मामले में भी एसा ही है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए भी ग्रेजुएशन और पीजी की डिग्री हासिल की हुई महिलाऐ भी बड़े पैमाने पर इस पोस्ट के लिए आवेदन करती है, इन अधिक पढ़ी लिखी महिलाओ को डिग्रीयो की वजह से भरती किया जाता है, उनके लिए परीक्षा में कुछ अंक अलग से निर्धारित किए गए है।

जरुर पढ़े: CCC Course के बारे में पूरी जानकारी

क्या आपको पता है की आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कैसे बनते है? अगर आपको पता नही है तो हमारे इस आर्टिकल के ज़रिये हम आपको बतायेगे की आंगनबाड़ी कार्यकर (Anganwadi Karyakarta) कैसे बनते है उसमे क्या क्या आता है और आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता क्या कार्य करती है और उसमे क्या लायकात (योग्यता) होती है, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता से जुडी सभी जानकारी  हम आपको विस्तार से समजायेंगे।

Advertisement

आंगनबाड़ी क्या होता है?

पहेले हम आपको आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता बनने की जानकारी से वाकिफ कराएगे परन्तु कुछ जरुरी बाते है जो आपको बताएगे तो सबसे पहले आपको पता होना चाहिए की आंगनबाड़ी क्या है तो हम बताते है की आखिर में की आंगनबाड़ी है क्या आंगनबाड़ी का सीधा सीधा मतलब आंगन आश्रम होता है जेसा की नाम से सपष्ट होता है आंगनबाड़ी केंद्र आंगन आश्रम से जुडी गतिविधिया का केंद्र होता है यानि वह गतिविधिया जो छोटे छोटे बच्चो को आंगनबाड़ी में करायी जाती है यानि आंगन में करायी जाती है इसमें खेल कूद, खाना, पीना, अक्षर का ज्ञान सिखाया और पढाया जाता है जिसे हम नर्सरी के नाम से भी जानते है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कौन होती है?

आइऐ जानते है की आंगनबाडी कार्यकर्त्ता कौन होती है हम जान चुके है ऊपर आंगनबाडी केंद्र के बारे में तो जो महिला आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन करती है उसे ही आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कहा जाता है। उसे उसके कार्यो में सहायता देने के लिए सहायिका को रखा जाता है कुछ आंगनबाड़ी मे मिनी कार्यकर्ता और साहायिका भी रखी जाती है इन सभी के लीये अलग अलग सेलरी यानि वेतन और योजना रखी गई है और कुछ साल बाद बढ़ाया जाएगा आंगनबाड़ी और सहायिका के वेतन में ज्यादा फर्क होता है।

आंगनबाड़ी केंद्र में क्या होता है?

आंगनबाड़ी केंद्र में तिन साल से लेकर छे साल तक के बच्चो का पोषण, उनके स्वास्थ्य का और शिक्षा का ध्यान रखा जाता है इसके साथ ही गर्भवती महिलाओ का स्वास्थ्य और पोषण देखा जाता है और आने वाले बच्चे को कुपोषण से बचाने हेतु उन्हें काम सोपा जाता है। केन्द्रों के संचालन का जिम्मा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का होता है आसान शब्द में कहे तो तिन से छे साल के बच्चो को स्कूल, पोषण, पूर्व शिक्षा और स्वास्थ्य पर्दान करना है। इन में पोषण ,स्वास्थ्य शिक्षा से जुड़े सुविधा के साथ ही परामर्श भी दिया जाता है यानी काउंसिलिंग भी किया जाता है। आंगनबाड़ी की स्थापना किसी सुरक्षित जगह पर की जाती है जेसे की गाव में या बस्ती के बिच में की जाती है जिसे बच्चे सुरक्षित रहकर खेल सके। आंगनबाड़ी को बेहतर से बहेतर बनाने के लिए सरकार मेहनत करती रहती है जिसे बच्चो और गर्भवती महिलाओ को फायदा हो और बच्चों को शिक्षा अच्छी से अच्छी मिले और सरकार अपने स्तर से कोशिश करती रहती है जेसे की गुजरात राज्य को ही देख लीजिये, इन दिनों हुई केबिनेट बैठक में गुजरात सरकार ने बच्चो के लिए एक अच्छी योजना बनायी है जिसमे बच्चो को साप्ताहिक हिसाब से दूध, फल, पोषणयुक्त खाने की चीजे खिलोने यह सभी चीजे बच्चो को मिले ऐसा फैसला सरकार ने किया है। आपको बतादे की बजेट के हिसाब से सरकार इजपफा, कटोती करती रहती है।

जरुर पढ़े: सरकारी शिक्षक (Government Teacher) कैसे बने?

Advertisement

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कैसे बन सकते है? कार्यकर्त्ता बनने की योग्यता क्या है?

क्या आप भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता में काम करना चाहते है, अगर आप बाल सेविका बनना चाहते है और आपको अपने अंदर से भी कार्यकर्ता बनने की इच्छा बहुत है तो जान लीजिए की आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कोन कोन बन सकता है सबसे पहले बतादे आपको की आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता सिफ महिला ही बन सकती है पुरुष नही आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता बनने के लिए कुछ लायकात जरुरी है जो आप में होनी चाहिए
तो हम जानते है की क्या जरुरी है आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के लिए।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बनने के लिए यह जरुरी है :

  • आवेदन करने वाली महिला संबंधित राज्य की स्थानिक हो।
  • आवेदन करने वाली महिला की उम्र कम से कम 21 वर्ष और अधिक से अधिक 45 साल हो।
  • यह एक आवश्यक शर्त है की आवेदक महिला अनिवार्य रूप से विवाहित हो।

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता बनने के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है?

आपको बतादे की आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता बनने के लिए शैक्षिक योग्यता 10thनिर्धारित की गई है यानि केवल वही महिला आवदेन कर सकती है जिसने 10th कक्षा पास की है और आंगनबाड़ी सहायक बनने के लिए यह योग्यता है की कम से कम 8 पास होना चाहिए।

मेरिट के आधार पर आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता का चयन कैसे होता है

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का चयन merit के आधार पर किया जाता है। इसकी तैयारी के लिए साक्षरता के लिए 25 अंक निर्धारित किए गए है यह अंक इस तरह है जो निचे दिए गए है :

Advertisement
  • शैक्षिक योग्यता के लिए 10 अंक -इसमें राज्य की और से निर्धारित की गई योग्यता के लिए कुल 7 अंक और ग्रेजूएशन की डिग्री के लिए कुल 2 अंक और पोस्ट ग्रेजूएशन के लिए 1 अंक निर्धारित किया गया है।
  • नर्सरी टीचर या फिर बाल सेविका के रूप में 1 साल का अनुभव होना चाहिए उसके 3 अंक होते है।
  • पति से सात साल से अलग रह रही अकेली महिलाये हो या फिर अनाथ होनि चाहिए।
  • एससी /एसटी /ओबीसी से संबंधित महिला के 2 अंक होते है।
  • अगर आपके परिवार में 2 बेटी हो तो 2 अंक।
  • 40 फीसदी या इससे अधिक विकलांग महिला के 2 अंक।
  • पर्सनली Interview लेने के 3 अंक है।

ऊपर दिए गे ऑप्शन के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार कीया जाता है जो की भर्ती के आधार पर बनाया जाता है।

जरुर पढ़े: रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने?

मेरिट में 2 आवेदन के अंक समान है तो क्या होता है?

हमारे मनमे एक सवाल उठता है की अगर दो मेरिट उमेदवारो के अंक समान निकले तो क्या होगा? तो आइए जानते है जवाब, अगर इस मेरिट के लिस्ट में दोनो आवेदन के मार्क्स एक समान आते है यानि दोनों महिला के अंक बराबर है तो भर्ती में उस महिला को प्राथमिकता दी जाती है जिनकी उम्र ज्यादा हो।

आंगनबाड़ी योजना कब शुरू हुई?

दोस्तों हम आपको आंगनबाड़ी योजना का इतिहास बताते है, आंगनबाड़ी योजना का शुभारंभ 34 साल पहले 1985 में हुआ था। उस वक्त उसे बाल विकास सेवा कार्य से शुरू किया गया था। आज भी केंद्र सरकार या फिर राज्य सरकार बच्चो और गर्भवती महिलाओ को कुपोषण से बच्चाने एवम उनके स्वास्थ्य का ख्याल रखने का जिमा और संचालन आंगनबाड़ी को दिया गया है। गर्भवती महिला अवम बाल विकास विभाग की देखरेख और काम निर्दशालय समेकित बाल विकास सेवाए देखता है। विभागी और से जारी आदेशो पर उसी की और से राज्य में योजना को लेकर सभी दिशा निर्दर्शक की जाती है।

Advertisement

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को मानदेय कितना मिलता है?

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को भर्ती मानदेय के आधार पर होती है आंगनबाड़ी में जो कार्यकर्ता होती है उसे वेतन 8 हजार रूपये और जो सहायिका होती है उसे कार्यकर्ता से कम यानि आधा हिस्सा 4 हजार रूपये का वेतन प्राप्त होता है। कई बार ऐसा हुआ है की कार्यकर्त्ता को वेतन कम पड़ता है वह वेतन बढ़ाने का मसला उठाती है उन महिलाओ का कहना है की बहेतर जीवन के लिए और बढती महंगाई के लिए यह वेतन बहुत कम है और उसको बढ़ाने की जरूरत है।

जरुर पढ़े: फैशन डिजाइनर कैसे बने?

राज्य अपनी जरूरत के हिसाब से करते हैं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती

हर कोई राज्य अपने जरूरत के हिसाब से आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की और सहायिका की भर्ती करता है और इस लिए बाल विकास मंत्रालयों से आंगनबाड़ी केन्द्रों की संख्या एवम आवश्यकता के हिसाब से भर्ती होती है।उदाहरण के लिए देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश को ही लें लीजिये। उत्तर प्रदेश में 2009 के बाद से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं भर्ती ही नहीं हुई है। पूरे 10 साल बीत चुके है। अब यह कहा जा रहा है कि यहां पूरे प्रदेश के लिए 31 हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती साथ में की जाएंगी।

हर जिल्ले में आंगनबाड़ी के पद्द की अलग अलग संख्या है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की भर्ती को महिला उमेदवार के जिले में कि जाती है। भर्ती बाल विकास परियोजन के हिसाब से होती थी लेकीन अब यह जिम्मा जिल्ले के कार्यकर्म अधिकारी को सोप दिया है यानि DPOको सोप दीया है। तय किया है की जिल्ला समिति के माध्यम से ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के आवेदन पत्र मंजूर होगे इन पर कारवाई होगी और इंटरव्यू के बाद भर्ती प्रक्रिया को पारदशी तरीके से अजमाया जाएगा।

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की भर्ती के तरीको को में बदलाव

समय के साथ साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की भर्ती के तरीके में भी बदलाव आया है अब राजस्थान सरकार का उदाहरण ही ले। राजस्थान सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की भर्ती उसके शैक्षिक लायकात और उसके व्यवहार , लिखित एग्जाम का आयोजन कीया है इस उमेदवार के योग्यता लायकात कार्यानुभव और विशेष योग्यता का उल्लेखन किया जाएगा।

हर कालम अलग होगा और हर कालम में प्रदत अंक के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाता है पहले ऐसा नही था। इन पदों में सिफारिश का खेल खूब चला था शिकायते बढ़ी तो अधिकारी की आंख खुली यह तय किया की सबसे पहले पद के लिए शैक्षिक योग्यता को बढाया जाये। पहले इस पद के लिए कमसे कम 8 पास होना जरुरी था लेकिन अब 10th पास होना जरुरी है।

जरुर पढ़े: एयर होस्टेस कैसे बने?

तीन साल पहले किया गया आंगनबाड़ी कार्यकर्ता भर्ती के नियमों में बदलाव

ज्यादातर शैक्षिक लायकात में बदलाव किया गया है जो की तिन साल पहले हुआ है। अब राजस्थान को ही देख ले राजस्थान राज्य में शैक्षिक योग्यता में बदलाव किया था। २०१६ में बदलाव की वजह थी धांधलियो की शिकायत और नाराजगी।

Advertisement

पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ की भर्ती सरपंच या उपसरपंच के हाथो होती थी वह अपने परिवार वालो को और सबंधियो को यह पदवी दिलाते थे अपने परिवार की महिलाओ को भर्ती करते थे उनमे ज्यादातर महिलाए 10th पास भी नहीं होती थी और इनमे से कही महिलाए आंगनबाड़ी केंद्र तक तो जाती ही नही थी और घर बेठे वेतन पा लेती थी। नियुक्ति में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायत आने लगी थी और आखिर में आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की भर्ती पक्रिया में बदलाव किया गया है।

आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नजर प्रशासन रखता है

आंगनबाड़ी केन्द्रों में नजर प्रशासन रखता है। उप जिला अधिकारी यानि एसडीएम् अक्सर आंगनबाड़ी के इलाके में जाते है और छापा मारते है और इन की देखरेख करते है की बच्चो को अपनी जरूरत के हिसाब से चीजे मिल रही है, उनको पढ़ाया कैसे जाता है ,दवाओ के हालत क्या है, उपस्थिति के हालत क्या है, कितने बच्चे आते है, उनको क्या सिखाते है और आगनबाडी महिला की उपस्थित कितनी है वह भी निरक्षण करते है। आवश्यक होने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को चेतावनि जारी की जाती है और किसी भी तरह की अनियमितता पर जांच बिठायी जाती है। जांच के बाद सम्बंधित लोगो पर कारवाई की जाती है।

जरुर पढ़े: जानिए मानव शरीर से जुड़े 100 रोचक तथ्य

Last Final Words :

दोस्तों, हम उम्मीद करते है की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कैसे बने के बारे में इस आर्टिकल के जरिये आपको पता चल गया होगा जेसे की आंगनबाड़ी क्या होता है, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कौन होती है, आंगनबाड़ी केंद्र में क्या होता है, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता कैसे बन सकते है, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता बनने के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है, आंगनबाड़ी योजना कब शुरू हुई, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को मानदेय कितना मिलता है, राज्य अपनी जरूरत के हिसाब से करते हैं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती,आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता की भर्ती के तरीको को में बदलाव, तीन साल पहले किया गया आंगनबाड़ी कार्यकर्ता भर्ती के नियमों में बदलाव, आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नजर प्रशासन रखता है जैसी सभी माहिती से आप वाकिफ हो चुके होगे।

दोस्तों आपके लिए Studyhotspot.com पे ढेर सारी Career & रोजगार और सामान्य ज्ञान से जुडी जानकारीयाँ एवं eBooks, e-Magazine, Class Notes हर तरह के Most Important Study Materials हर रोज Upload किये जाते है जिससे आपको आशानी होगी सरल तरीके से Competitive Exam की तैयारी करने में।

आपको यह जानकारिया अच्छी लगी हो तो अवस्य WhatsApp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को उपयोगी हो पाए। और आपके मन में कोई सवाल & सुजाव हो तो Comments Box में आप पोस्ट कर के हमे बता सकते हे, धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement